पीसीओएस लक्षण: पीसीओएस यानी पॉलीसिस्टिक सिंड्रोम… एक ऐसी बीमारी, जिसकी चपेट में आज दुनिया भर में करीब 116 मिलियन महिलाएं हैं। WHO की एक रिपोर्ट के मुताबिक, PCOS एक ऐसी सामान्य स्थिति है, जो महिलाओं में एक उम्र के बाद दिखने लगती है। यह एक स्थिर स्थिति है, जो महिलाओं की निगरानी को सबसे ज्यादा प्रभावित करती है। इसकी वजह से महिलाओं में पीरियड की समस्या होने लगती है, एक्ट्रा एण्ड्रोजन और पॉलीसिस्टिक अवलोकन हो जाते हैं, जिनमें अंडाशय बड़े हो जाते हैं। इसमें कई द्रव से भरे हुए होते हैं, जिन्हें सिस्ट कहते हैं। आइए जानते हैं महिलाओं में पीसीओएस की समस्या होने पर उनके चेहरे पर किस तरह के लक्षण नजर आते हैं..

महिलाओं के चेहरे पर दिखना PCOS के लक्षण हैं

पीसीओएस के वैसे तो कई लक्षण (PCOS Symptoms) होते हैं. इनमें से कुछ सबसे पहले चेहरे पर दिखाई देते हैं। महिलाओं में एण्ड्रोजन या पुरुष हार्मोन के उच्च स्तर होने पर इसका संकेत मिल जाता है। एंड्रोजन पीसीओएस से संबंधित मुंहासे को जन्म देता है। ये अत्यधिक मात्रा में सीबम का उत्पादन करने के लिए त्वचा की ग्रंथियों को चलाने का काम करते हैं। ये तकनीकी पदार्थ होते हैं। इसका मतलब यह है कि अगर किसी महिला के चेहरे पर ठुड्डी और ऊपरी गर्दन के आस-पास मुंहासे हो रहे हैं तो ये पीसीओएस के लक्षण हो सकते हैं।

पीसीओएस का इलाज कैसे कर सकते हैं

अगर कोई महिला पीसीओएस की समस्या से परेशान है तो सबसे पहले उन्हें अपने लाइफस्टाइल में बदलाव करना चाहिए। अगर वजन बढ़ रहा है तो उस पर कंट्रोल करना भी सबसे ज्यादा जरूरी होता है। अपने मार्ग में कसरत और अनाज-संतुलित आहार शामिल कर इस समस्या से ग्रसित हो सकते हैं। स्वस्थ विशेषज्ञ के अनुसार, ऐसी महिलाएं जो पीसीओएस से जूझ रही हैं, उन्हें फल और यें ज्यादा से ज्यादा खानी चाहिए। इसके अलावा पीसीओएस का इलाज (पीसीओएस उपचार) के लिए डॉक्टर की सलाह न लें।

ये भी पढ़ें

.



Source link

Leave a Reply