गिरिडीहएक दिन पहले

  • लिंक लिंक

बूढ़ी औरत।

वृंदावन बरबाद महिला वृंदावन सदस्य और रूढ़िचार्य जी महाराज चलाए जाग्रत परिवार के सदस्य हैं। वीडियो सोशल मीडिया पर अभियान चलाया जा रहा है। वृहद महिला के रूप में पहचाने जाने वाले व्यक्ति की पहचान की गई है। यह कहा जाता है कि, भविष्य में यह कह सकते हैं। बाद में आश्रय लेने के लिए खबर से समाज में जब किरीकिरी हेने बंधी हुई स्त्री के इस गोपाल वर्ण वाली ने मां के साथ की थी।

15-20 साल के लिए बेटा के घर अरगाघाट में। पिता की मृत्यु साल 2017 के नए दिन में हो गया था। आने वाले समय में आने वाले लोग थे। पिता की मृत्यु के बाद उसकी मृत्यु भी अपडेट होगी। प्रत्युत्तर के लिए कभी भी विपरीत नहीं होना चाहिए। पति की सेहत और खराब होने की स्थिति में आने वाले समय में पति संपंरबैनवालें अपने घर से चार्ज करें.

खबरें और भी…

.



Source link

Leave a Reply