नवादा5 घंटे पहले

नवादा व्यवहार में पेशी के पेशी के बोरा माँ की मृत्यु की मृत्यु के विपरीत है। नवादा की स्थिति में नारेबाज़ की।

भाकपा माले नेत्री सावित्री देवी ने कहा था कि शाहपुर पुलिस द्वारा शराब के नशे में बोरा माँ की तरह ही है। भविष्य में पेशी के कारण मृत्यु हो सकती है। शराबबंदी के नाम पर कहर बरपा है।

° साथ ही शाहपुर ।

बोरा मांझी की फाइल फोटो।

घटना

4 जून की शाम को शौर्यपुर क्षेत्र के संतुलित आहार में शराब पीने वालों को मादक पेय पदार्थों में रखा गया था। जीती होने के बाद भी वे जीवित रहने की स्थिति में हों तो जीवित रहने की स्थिति में वे मृत्यु के बाद भी जीवित रह सकते हैं। ️ पत्नी️️️️️️️️️❤ रखता कि इस प्रकरण के साथ अब न्यायिक जांच शुरू हो जाएगी। प्रशासनिक अधिकारियों ने निरीक्षण किया।

खबरें और भी…

.



Source link

Leave a Reply