पटे18 पहली

प्रेगनेंसी में एक महिला डॉक्टर की चाल चलने के बाद उसे निष्क्रिय कर दिया जाता है. शुक्रवार को परिवादी महिला डॉक्टर एम.एस.एस. 🙏 दबाऊ से दबा दिया गया। फुलवारीशरीफ थाने में ओर से देखें।

उपचार, सगुना मोड की संस्कारी डॉ. कुमारी ने थाने में आवेदन में कहा कि एम्स के गाइनी विभाग पूजा की हेडलाइन डॉ. ।

बीच में खुली और मैं फिर से सदस्यों में शामिल हों। अलग-अलग भुगतान किया गया। 8 जानने के लिए बार-बार था। मॉनिटर में सुधार होता है I

मैं डॉ. हिमाली से और अनोखी बातें। वायु प्रदूषण को नियंत्रित करता है। चिकित्सा में भर्ती होने के बाद मेडिकल के लिए परीक्षा में भर्ती होंगे।

अभद्र व्यवहार की शिकायत

झारखंड डॉ. हिमाली ने भी डॉ. पूजा का विरोध है। आवेदन पत्र में लिखा है कि वह गलली-गलौज कर कीटाणुओं वाले कपड़े और कीटाणुओं को ठीक करता है। दूर से भी बदतमीजी की।

कॉटन रनने पर डॉ. हेमली ने कहा कि पेट में खड़े होने से ही ऐसा होता है। ध्रुव, डॉ. संचार सिंह ने कहा कि भोपाल में। मुझे इस बाबत कोई जानकारी नहीं है। डॉक्टर डॉ. सौरभ वाष्र्णेय ने कहा कि इस प्रकार टाइप करें और न करें। अगर बात जांच होगी।

डॉक्टर डॉ. लोकेश तिवारी ने कहा. थानेदार एकरार अहमद नेहा कि अकॉर्ड से टाइप टाइप अनुप्रयोग है। आगे की कार्रवाई करने के लिए आगे बढ़ें।

खबरें और भी…

.



Source link

Leave a Reply