श्रीरामचरितमानस पर विचार व्यक्त करते हुए द्विपक्षीय नेता।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस को लेकर दिए गए बयानों की संख्या बढ़ती जा रही है। उनकी अपनी पार्टी ने मौर्या के बयान से किनारा कर लिया है। वहीं, पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव मौर्य के बयान से नाराजगी जता रहे हैं।

इससे पहले बिहार के शिक्षा मंत्री प्रो. चंद्रशेखर यादव ने भी इसी तरह के बयान देकर बिहार की राजनीति में बवाल खड़ा कर दिया था। अब मौर्य के बयान यूपी में राजनीतिक पारे को चढ़ा रहे हैं। भाजपा मौर्य के बयानों पर खतरा है। वहीं, दूसरी ओर स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ हजरतगंज व ठाकुरगंज थाने में तहरीर दी गई है। ये मामले दर्ज किए गए हैं।

अचूक स्वामी प्रसाद मौर्य ने क्या कहा? मौर्य के बयानों पर बीजेपी नेताओं का क्या कहना है? मौर्य के बयानों पर स्पा ने क्या प्रतिक्रिया दी? इससे पहले मौर्य के किन्हीं के बयानों पर बवाल हो गया है? रामचरितमानस को लेकर असली नेता इस तरह के बयान क्यों दे रहे हैं? इसके सियासी मायने क्या हैं? आइए समझते हैं…

.



Source link

Leave a Reply