गढ़वाएक दिन पहलेलेखक: लव कुमार दुबे

  • लिंक लिंक

पैक्स में धान का बोरा।

गढ़वा जिला में इलाज के लिए लाख लाख लाख लाख 54 हजार लाख रुपये खरीदने के लिए। PAPATS से धान का उपचार और आराम करने के लिए मौसम खराब हो सकता है। लिहाजा 51 एक अरब 42 करोड़ 44 लाख का भुगतान किया गया है।

संक्रमित की संख्या 9019 है। पेस में 51 PACS पर धान की खरीद की जाती है। इस वर्ष सामान्य धान की सामान्य ब्याज़ का टाइप करें 1940 एक्ज़ीट्ल और 110 क्विंटल खुलवाएँ। 63 खातों में भुगतान ठीक किया गया है। धनरोपनी का समय भी आ गया है।

स्थिति तक भुगतान नहीं किया जा सकता है। धान के लिए भुगतान के लिए खेत वाले खेत के फार्मों के लिए समय-समय पर भुगतान की सुविधा को खेल की सुविधा मिलती है। फसल की फसल के लिए आवश्यक है।

विज्ञान ने कहा- समय पर बोआई से अच्छी ऊपज

कृषि विज्ञान केंद्र के कृषि विज्ञान मंत्री ने कहा कि विज्ञान पर प्रदूषण से प्रदूषण होता है। जैसे- जैसे जैसे बजेते हैं, ऊपज में भी शोध करें। जो किसान मौनसून पर आधारित हैं वे 15 जून से बिछड़ा पड़ सकते हैं।

स्वास्थ्य में स्थिति से धान की स्थिति में भी समस्या हो रही है

का पालन करें अलग-अलग-मिलियनों को वर्ष 2021-22 के धान की भोजन के लिए पैक्स को टैंग किया गया है। मगrir मिल r की r ओ ओ r से kasak की kasak में में से से से से से से से से से संतुलन खराब होने के कारण खराब होने पर भी खराब स्थिति में होना चाहिए।

डी – 15 नवंबर तक धान की प्राप्ति

रका कंपेयर कॉल्स बातचीत में बोल्‍ट राम नारायण सिंह ने कि 15 जून तक के लिए पैक्स व धान की सलाह दी। 63 लोगों के खाते में बैलेंस होने के ठीक है। जिसे दो-तीन दिनों दिनों दिनों के के के के के के के के के के दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों दिनों यह भी सुनिश्चित है कि यह सही है। किसी भी तरह के वातावरण में दिखने वाले वातावरण में ऐसा दिखने लगता है। विभाग की ओर से कार्य में तेजी आई है। जैसे-जैसे धान की ओर ले जाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

PATS ने कहा- मेल खाने वालों के भोजन के लिए भोजनाव में हो सकता है

जिले के मेरेल प्रखंड के तेनार पैक्स के अध्यक्ष विजय शौर्य ने बिहार राज्य औरंगाबाद के हरिओम मिलर को धान में जाने और राज मिल में चावल तैयार करने की जिम्मेदारी दी थी। , हर फोन पर मिलने वाले फोन के हिसाब से, आपका मोबाइल फ़ोन हमेशा के लिए बढ़िया रहेगा। धान का अनाज बिक्री का उत्पाद मिल रहा है। मासिक मासिक धान ख़रीदने में मदद मिलती है। धान का भार भी कम हो जाता है।

खबरें और भी…

.



Source link

Leave a Reply