रांची18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राज्यसभा सदस्य आदित्य साहू ने मंगलवार को कहा कि राज्य के लोग सरकार को बिजली दे, नहीं तो मध्यप्रदेश के घर की बिजली काटेंगे। राज्य में बिजली की लचर व्यवस्था का आरोप, बीजेपी ने बिजली वितरण निगम कार्यालय के सामने धरना दिया।

आदित्य ने कहा कि तारों के घरों में बल्ब नहीं जलेंगे, तो मुख्यमंत्री के घर में भी उजाला नहीं होना चाहिए। जब बिजली की कमी में मेधावी बच्चा नहीं पढ़ता है, खेतों में काम नहीं हो पाता है, कल-कारखाने बंद होने लगते हैं, तब राज्य के मंत्री और पलक को हक नहीं कि वे आपके घरों में बिजली जलाएं। महानगर अध्यक्ष केके गुप्ता के नेतृत्व में हुए धरने में बीजेपी नेताओं ने सवाल किया कि पूर्व पूर्व रघुवर सरकार में 24 घंटे बिजली कैसे मिलती है, और अब सिर्फ चार घंटे ही क्यों? विधायक सीपी सिंह ने कहा कि इस सरकार से न तो बिजली उपभोक्ता खुश हैं और न बिजली कर्मचारी।

इस सरकार को झटका गिरने से ही समाधान संभव है। केके गुप्ता ने कहा कि बिजली व्यवस्था अच्छी नहीं है, तो नौकरी छोड़ देंगे। धरणे को बालमुकुंद सहाय, सुबोध सिंह गुडडू, काजल प्रधान, आरती कुजूर, पवन साहू, सीमा शर्मा, शोभा यादव, जैलेंद्र महतो, संदीप वर्मा, सूर्य प्रभात, आदि ने संदेश दिया। ऑपरेशन बलराम सिंह और धन्यवाद राकेश राकेश ने किया। स्पॉट पर प्रतुल शाहदेव, प्रेम मित्तल, संजय जायसवाल, जितेंद्र सिंह पटेल, नीरज सिंह, अनीता वर्मा, जॉनी वाकर खान आदि थे।

खबरें और भी हैं…

.



Source link

Leave a Reply