बेटीया5 घंटे पहले

कार्यक्रम में व्यवस्था।

बैत के मझौलिया में सुबह कृषि विज्ञान माधोपुर में नवाब कीट संस्थान का लोकासुर सुबे की उपमुख्यमंत्री रेणुदेवी और युवा बिहार के अध्यक्ष सहसंस्करण के प्रोफेसर अभय कुमार ने कृषि विज्ञान संस्थान के प्रोफेसर अफ़नी कुमार के संस्थान से बाहर निकलने के लिए दीप प्रज्वलित और हेटकर हेट. इस पर कृषि कृषि विज्ञान केंद्र माधोपुर के प्रधान मंत्री शिशिर कुमार कुमार ने कृषि विज्ञान केंद्र का परिचय दिया।

ट्विट सूबे की उप-विपणन रेणु देवी ने कहा कि भारत का देश है। समय-समय पर कृषि विज्ञान केंद्र मांधपुर में है। एक लाख बावन के उत्पादन से प्रबंधन किया गया। स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए. किसान के बीज हमारे अन्नदाता हैं। इकनॉमिक इंडियन की और रीढ किसान ही है।

राजेंद्र विश्वविद्यालय विश्वविद्यालय के डॉ अंजनी कुमार ने कहा कि नई तकनीक पर बेसिंग केला के कपड़े खराब होंगे। भुगतान के लिए आय का कौन सा विकल्प। स्वच्छ भारत के प्रशासन के काम करने के लिए। कृषि पशुपालन पशुपालन कर किसान अपनी आय में वृद्धि कर सकते हैं।

कृषि में पशुपालन डॉक्टर एम एस कुंदू पशु से संबंधित पशुपालन डॉक्टर. चिच डॉ अवधेश कुमार डॉ धीरू कुमार डॉ रयता देवी डॉ पवन कुमार डॉ पवन कुमार मनुबाबू कुशवाहा संदीप कुमार श्रीवास्तव सिंह, लालबाबू शर्मा सहित अन्य गुणेश्वर सिंह।

खबरें और भी…

.



Source link

Leave a Reply