खूँटी44 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

की हत्या कर कटे सिर के साथ भाई ली फोटो

भाई ने अपने ही चचेरे भाई की हत्या कर दी। सिर काटकर उसके साथ फोटो ली। शरीर से 15 किमी दूर दूसरी जगह सिर को जमीन में गाड़ दिया और नामांकन हो गया। घटना खूंटी जिले की है जहां संपत्ति विवाद में 20 साल के सागर मुंडा ने अपने 24 साल के चचेरे भाई कानू मुंडा की हत्या कर दी। दस के दोस्तों ने कटे हुए सिर के साथ एक सेल्फी खींची। घटना मुरहू क्षेत्र की है। ब्राजील के पिता दसई मुंडा ने इस संबंध में थाने में शिकायत दर्ज कराई। प्राथमिकी के आधार पर रविवार को मुख्य अपराधियों और उनकी पत्नी सहित छह लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पिता ने किया था अपहरण की शिकायत
दर्ज शिकायत में पिता ने बताया कि उनका बेटा कानू मुंडा 1 दिसंबर को घर पर अकेला था। परिवार के सभी सदस्य खेत में काम कर चुके थे। शाम को जब सभी घर लौटाते हैं, तो पता चलता है कि उनके बेटे का भतीजा सागर मुंडा और उनके दोस्तों ने मिलकर अपहरण कर लिया है। पिता ने अपने बेटे की तलाश की लेकिन वह नहीं मिला। पिता ने तुरंत थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई।
झारखंड भाग रहे थे अपराधी
अपराधियों को पकड़ने के लिए खूंटी अनुमंडल पुलिस सहयोगी अमित कुमार के नेतृत्व में पुलिस दल बनाया गया। पुलिस ने बताया कि हमें जब जानकारी मिली तो हमने तकनीकी टीम की सहायता से पता चला कि यह लोग झारखंड छोड़कर भाग रहे हैं। हमारी टीम ने सिमडेगा पुलिस से संपर्क साधा और इन्हें गिरफ्तार करने में सफल रही।

15 किमी दूर सिर काटकर मारा गया था
मुर्हू थाना चार्ज चूड़ामणि टुडू के हिसाब से आस की गिरफ्तारी के बाद चक्कर कुमांग गोपाला जंगल में मिला। शव का सिर गायब था। इनसे जब सिर के संबंध में पूछताछ हुई तो इन्होंने बताया कि सिर दुलवा तुंगरी क्षेत्र में 15 किलोमीटर दूर चिपका हुआ है। पुलिस ने वहां से सिर बरामद किया। शव जल्दी नष्ट हो जाएं इसलिए जगह पर शव में नमक डाल दिया था ताकि वह गलत हो जाएं।

हत्या के बाद कटे सिर के साथ खिंचवाई फोटो
हत्या के बाद वेसी कटे सिर के साथ फोटो खिंचवाई। जंजीर सहित पांच मोबाइल फोन, खून से सने दो धारदार हथियार, एक एक्सएक्सएक्स और एक रिजल्ड की गई है।
लंबे समय से जमीनी विवाद चल रहा था
अधिकारियों का दावा है कि संपत्ति के एक प्लॉट को लेकर कई और एक के बीच लंबे समय से दुश्मनी की वजह से हत्या हुई है। दुर्घटनाएं थीं कि बेटे की मौत के बाद पूरी संपत्ति उनका नाम हो जाए। इसी योजना के तहत भाई का सिर कलम किया गया था। इन सभी गोपनीय का आपराधिक इतिहास भी रहा है। पहले भी कई मामले इन पर चल रहे थे।

खबरें और भी हैं…

.



Source link

Leave a Reply